प्रदर्शनी में छेड़छाड़ का विरोध करने पर पुलिस के सामने छात्रो ने की पिटाई।

प्रदर्शनी में छेड़छाड़ का विरोध करने पर पुलिस के सामने छात्रो ने की पिटाई।

वाराणसी के महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ में पर्यावरण कुंभ में छेडख़ानी को लेकर मारपीट हो गयी। पुलिस के सामने ही एक छात्र की पिटाई कर दी गयी। आरोप है कि पुलिस ने मारपीट करने वाले छात्रों पर कोई कार्रवाई नहीं की। पकड़े जाने के बाद भी परिसर के बाहर ले जाकर छोड़ दिया गया। घटना से नाराज छात्रों ने प्रदर्शनी हटाने की तैयारी शुरू कर दी थी शिक्षकों ने किसी तरह छात्रों को समझा कर शांत कराया। इसके बाद छात्र प्रदर्शनी छोड़ कर चले गये। छात्राओं को पुलिस अभिरक्षा में उनके छात्रावास में भेजा गया।पर्यावरण कुंभ में ललित कला विभाग के छात्र व छात्राओं ने चित्रकला प्रदर्शनी लगायी थी। प्रदर्शनी में छात्र व छात्राएं दोनों ही उपस्थित थे। इसी बीच वहां पर परिसर के छात्र पहुंचे। कुछ छात्रों ने छात्राओं से छेडख़ानी शुरू कर दी। इसका एक छात्र ने विरोध किया। इसके बाद छेडख़ानी करने वालों ने विरोध करने वाले छात्र की पिटाई कर दी। मारपीट वाले स्थान पर भारी संख्या में पुलिस फोर्स तैनात थी पुलिस ने मारपीट करने वालों को पकडऩे की बजाये झगड़ा सुलझाना ही मुनासिब समझा। मारपीट करने वाले आराम से परिसर से बाहर निकल गये। इसके बाद नाराज छात्रों ने प्रदर्शनी बंद करने का ऐलान कर दिया। शिक्षकों ने किसी तरह 2 दिसम्बर तक प्रदर्शनी लगाये रखने की बात कहते हुए छात्रों को मनाने का प्रयास किया है। इसके बाद छात्र प्रदर्शनी छोड़ कर निकल गये और सारा स्टॉल खाली हो गया। पुलिस सुरक्षा में छात्राओं को उनके छात्रावास में छोड़ा गया है।

और पढ़ें: बीएचयू में नर्सिग डिग्री की मान्यता को लेकर धरने पर बैठे छात्र छात्राओ से चीफ प्रॉक्टर ने की मार पीट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *