अयोध्या में चौदह कोसी परिक्रमा मेले के लिए श्रीराम शहर तैयार

अयोध्या में चौदह कोसी परिक्रमा मेले के लिए श्रीराम शहर तैयार

16 नवंबर से 24 घंटे चलने वाली परिक्रमा सुबह सात बजे शुरू होगा।  मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्रीराम चौदह कोसी अर्थात् (चौदह वर्ष के ) के परिक्रमा  वनवास से है। पौराणिक कथाओं के मुताबिक भगवान श्रीराम के चौदह वर्ष के वनवास के अयोध्यावासियों स्वयं को जोड़ते हुए प्रत्येक वर्ष के लिए एक कोस परिक्रमा की इच्छा।

इस प्रकार अयोध्यावासियों ने चौदह वर्ष के लिए चौदह कोस परिक्रमा पूरा किया होगा। यह एक परंपरा बन गई है और र्दीपावली के नौवें दिन लाखों श्रद्धालु यहां आकर करीब 42 किलोमीटर  की परिक्रमा एक निर्धारित मार्ग पर अयोध्या और फैजाबाद से नंगे पांव पैदल चलकर अपनी-अपनी परिक्रमा पूरी करते हैं।कार्तिक महीने के अष्टमी के दिन से शुरू होने वाले परिक्रमा में श्रद्धालु  ग्रामीण अंचलों से आते हैं।  कुछ दिन पहले अपने परिवारों और साथियों के साथ विभिन्न मंदिरों में शरण लेने के लिए यहां आते हैं। और निश्चित समय पर सरयू स्नान के baad परिक्रमा शुरू करते हैं, जो एक ही स्थान पर वापस आने पर समाप्त हो जाती है। परिक्रमा में लगातार चल रहे अधिकांश लोग अपनी परिक्रमा पूरी करना चाहते हैं रुकने पर मांसपेशी में खिंचाव आने के कारण, थकान का अनुभव जल्द ही होने लगता है। उनमें से अधिकतर जो बूढ़े लोगों मध्य आयु वर्ग के रहते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *