मेडिकल कालेज में रैगिंग का मामला 52 आरोपी छात्रो को किया गया निष्कासित

          मेडिकल कालेज में रैगिंग का मामला 52 आरोपी छात्रो को किया गया निष्कासित
सहारनपुर: सख्त कानून के बाद भी शैक्षणिक संस्थानों में रैगिंग की घटनाएं नहीं रुक रही है।आये दिन रैगिंग के मामले सामने आ रहे है।  ताज़ा मामला सहारनपुर  का है।मेडिकल कालेज में पढ़ने बाले सीनियर्स छात्रो ने रात में जूनियर छात्रो के लाइन में खड़ा कर  सर के बाल काट दिए। छात्रो के विरोध करने पर उनके साथ कार पीट भी की गई।  इस घटना के बाद से कॉलेज प्रशासन में हड़कंप मचा हुआ है। फिलाल कालेज प्रसासन ने कार्यबाही करते हुए 52 छात्रो को एक महीने के लिए निलंबित कर दिया और उनका हॉस्टल भी खाली करा लिया गया है।
सहारनपुर शहर के अंबाला हाइवे पर बने शेखुल हिंद मौलाना महमूद उल हसन मेडिकल कॉलेज में बीती देर रात हॉस्टल में सीनियर छात्रों ने जूनियर 45 छात्रों की रैंगिग करने के लिये हास्टल से बहार निकल कर  लाइन लगा कर खड़ा होने को कहा। इसके बाद एक एक कर सभी के बाल काट दिए गए ।बाल काटने का जब जूनियर छात्रो ने बिरोध किया तो उन साथ मार पीट भी की गई। जूनियर छात्रों के बाल काटने की खबर सुबह जब कालेज प्रशासन को लगी।तो कालेज में हड़कंप मच गया। कालेज प्रशासन ने पहने मामले की कोशिश की ।मामला मिडिया में आने के बाद  मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य अरविंद त्रिवेदी जाँच के बाद आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की बात कही है। कालेज प्रशासन एंटी रैगिंग  कमेटी को जाँच के आदेश दिए। एंटी रैगिंग कमेटी ने तत्काल जाँच कर अपनी रिपोर्ट कालेज प्रशासन के सामने प्रस्तुत कर दी। कालेज प्राचार्य डॉ अरविंद त्रिवेदी ने शामिल वर्ष 2016 बैच के 3 और वर्ष 2017 बैच के 49 छात्रों को एक माह के लिये कक्षाओं से और छह माह के लिये छात्रावास से निष्कासित कर दिया। सभी छात्रो के परिजनों को इस कार्यबाही की जानकारी दे दी गई है। प्रशासन ने इस कार्रवाई की जानकारी जिला प्रशासन और पुलिस को दे दी है। फिलाल पुलिस पूरे मामले की अपने स्तर से जाँच कर रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *