PWD विभाग ने किया ग्रामीणों की जिन्दगी से खिलबाड़

शाहजहाँपुर जलालाबाद थाना के रामगंगा और बहगुल नदी के बीच एक टापू है जिसपर दर्जनों गॉव बसते है यहां की जिंदगी बहुत कष्टदायक है ।पुल न बंधा होने की बजह से इन गांवों का बरसात के समय लगभग चार माह तक इनका संबंध तहसील से भी नही हो पाता है।
PWD विभाग ने किया ग्रामीणों की जिन्दगी से खिलबाड़

बरसात के बाद संगाहा तथा चितरऊ के लिए नदी पर लोक निर्माण विभाग द्वारा पैंटून पुल बनवा दिया जाता जिसके सहारे ग्रामीण जलालाबाद आते जाते है ।इन लोगो करे जिंदगी कर साथ लोक निर्माण खिलवाड़ करने से नही चूकता है।

पैंटून पुल पर बेरीकेडिंग तो कभी करवाई ही नहीं जाती है।वहीं पटले भी टूटे हुए डाल दिये जाते है।भले ही ग्रामीणों के साथ हादसे होते रहे।जब ग्रामीणों ने जलालाबाद एसडीएम से पुल की मरम्मत की मांग की।तो पीडब्लूडी विभाग ने पुल की ममम्मत के नाम पर लोगो की जिंदगी खतरे में डाल दी।

पुल पर टूटे हुए पटले डाल दिए।ग्रामीणों ने बताया कि मरम्मत कर नाम पर बिभाग ने केवल खानापूर्ति की है।मरम्मत होने बाद बाइक और ट्रैक्टर का निकलना भी मुश्किल हो गया है।कई बार ट्रैक्टर और ट्रालियां नदी में समा चुकी है। प्रशासन यहाँ बड़े हादशे का इंतजार कर रहा है।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *