प्रतिभा किसी की मोहताज नहीं और न ही इसे छुपा कर रखा जा सकता है।

प्रतिभा किसी की मोहताज नहीं और न ही इसे छुपा कर रखा जा सकता है। प्रतिभावान के अंदर छुपी प्रतिभा एक न  दिन सामने आ ही जाती है।प्रतिभा किसी के अंदर भी हो सकती है ।चाहे बो कितने भी संबैधानिक पद पर हो प्रतिभा उजागर हो ही जाती है। आप को दिखाते है पर प्रशिक्षु आईएएस की प्रतिभा जिसे देख कर हर कोई हैरान रह गया।


 

प्रतिभा किसी की मोहताज नहीं और न ही इसे छुपा कर रखा जा सकता है।
सिद्धार्थनगर जिले में प्रशिक्षु आईएएस सौम्या पांडेय ने  तबले की थाप पर कत्थक नृत्य पेशकर अपने अंदर छिपी प्रतिभा उजागर किया। सौम्य ने अपने नृत्य से ऐसा समा बांधा की लोग मंत्रमुग्ध हो गए और तालियां बजाकर उनका अभिवादन करने लगे सौम्या पांडेय ने मीडिया से बात करते हुए बताया कि उन्हें बचपन से ही नृत्य का शौक था उन्होंने पढ़ाई के साथ कत्थक डांस की क्लास भी शुरू की पढ़ाई और नृत्य को उन्होंने भरपूर समय दिया।सौम्या ने बताया कि कत्थक डांस से पढ़ाई में कंसंट्रेशन को लेकर उन्हें काफी मदद मिलती थी। उनका सपना आईएएस बनने के साथ अच्छी कथक नृत्य सीखना भी रहा।आज खुशी है कि भगवान ने उनकी प्रार्थना सुन ली आज महिलाएं जिस तरह समाज के हर क्षेत्र में अपना मुकाम हासिल कर रही है। उसको लेकर सौम्या काफी उत्साहित हैं और महिलाओं को बिना झिझक हर क्षेत्र में अपने को स्थापित करने के लिए प्रोत्साहित भी कर रही हैं। आपको बताते दे कि आईएस सौम्या पांडेय वर्तमान में जिले में बतौर ज्वाइंट मजिस्ट्रेट के पद पर तैनात हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *