10 लाख की फिरौती के लिए दोस्त ने की दोस्त की हत्या

मथुरा में दोस्ती को सर्मसार कर देने एक सनसनी खेज मामला सामने आया है। जहा दोस्तों ने दोस्त का अपहरण कर लिया और फिरौती न मिलने पर  गोली मार उसे मौत के घाट उतार दिए  । युवक छह दिनों से लापता था। इस सिलसिले में पुलिस ने दो युवकों को उठाया है। जिन्होंने उसकी हत्या कर लाश  बोरे में बांध कर यमुना नदी के किनारे फेकने की बात कबूली है। आरोपियो की निशानदेही पर पुलिस ने लाश बरामद कर ली।

10 लाख की फिरौती के लिए दोस्त ने  की दोस्त की हत्या

10 लाख की फिरौती के लिए दोस्त ने  की दोस्त की हत्या , 10 दिसंबर की शाम को बांके बिहारी मंदिर के पास जंगलकट्टी क्षेत्र निवासी अनुज शर्मा पुत्र पुरुषोत्तम शर्मा को घर से दो साथी युवक बुलाकर ले गए। तभी से लापता युवक के पिता पेड़ा व्यापारी पुरुषोत्तम शर्मा परिजनों के साथ उसकी तलाश कर रहे थे। वहीं पुलिस ने घटना की गुमशुदगी दर्ज कर युवक की तलाश शुरू कर दी थी। पुलिस लापता युवक की मोबाइल डिटेल के आधार पर इन युवकों तक पहुंची। इन युवकों ने ही आखिरी बार उसे फोन कॉल किया था।  पुलिस ने गौरानगर कॉलोनी निवासी लोकेश  और उसका दूसरा साथी पानीघाट निवासी लखन को पकड़ा। कड़ी पूछताछ करने के बाद भी शातिर युवक  पुलिस को अनुज शर्मा की हादसे में मौत की झूठी कहानी सुनाकर गुमराह करने की कोशिश कर रहे थे। कई घंटे की मशक्कत के बाद दोनों साथियों ने अनुज की हत्या कर उसकी लाश ठिकाने लगाना कबूला। पुलिस को दोनों साथियों की निशानदेही पर पानीघाट क्षेत्र स्थित मैत्री विधवाश्रम के पीछे पानी से भर गड्ढे से बोरी में अनुज का शव बरामद हुआ।सीओ सदर राकेश कुमार तिवारी ने बताया कि पिछले छह दिन से लापता अनुज की हत्या उसके दो साथी लोकेश और लखन ने की है। दोनों को गिरफ्तार कर लिया है। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। हत्या में प्रयुक्त तमंचा भी बरामद किया है।

पुलिस ने सेक्स रैकेट में सात लोगों को गिरफ्तार किया

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *