पुलिस की पिटाई से ई रिक्शा चालक की मौत, परिजनों ने हाइवे पर शव रखकर लगाया जाम

शाहजहांपुर में तीन पुलिस कर्मियों पर एक ई रिक्शा चालक की पिटाई से हुई मौत का आरोप लगा है। गुस्साए ग्रामीणों ने नेशनल हाईवे 24 जाम कर  रोड़वेज बस में तोड़फोड़ और पथराव और जम कर हंगामा काटा

 

पुलिस की पिटाई से ई रिक्शा चालक की मौत, परिजनों ने हाइवे पर शव रखकर लगाया जाम
शाहजहांपुर में तीन पुलिस कर्मियों पर एक ई रिक्शा चालक की पिटाई से हुई मौत का आरोप लगा है। घटना के बाद गुस्साए ग्रामीणों ने नेशनल हाईवे 24 जाम कर  रोड़वेज बस में तोड़फोड़ और पथराव और जम कर हंगामा काटा। ग्रामीण आरोपी पुलिस कर्मी के खिलाफ कार्यवाही और मुआवजा दिए जाने की मांग कर रहे थे । घटना चौक कोतवाली क्षेत्र के बरेली मोड़ की है।

 

चौक कोतबाली के मौजमपुर गांव का रहने बाला बालेश्वर ई रिक्शा चला कर अपने घर परिवार का पालन पोषण करता रहा।आज बरेली मोड़ पर जब सबारी बैठा रहा था जभी अजीज गंज चौकी पर तैनात सिपाही विनीत और हैदर ने उसके रिक्शे की चाबी निकाल ली।जिस का बालेश्वर ने विरोध किया। बिरोध करने पर सिपाही ई रिक्शा चालक को चौकी पर खीचते हुए ले आये और वहा उसकी बेरहमी से पिटाई कर दी जब उसकी हालत बिगड़ गई तब बालेश्वर को उसके गांव छुड़वा दिया।

 

 

परिजन उसे इलाज के लिए निजी अस्पताल में ले गए बहा उसने दम तोड़ दिया। गांव में बालेश्वर की मौत की  सूचना  पहुचने के बाद नाराज ग्रामीण बहा पहुँच गए। ग्रामीणों ने  शव नेशनल हाईवे 24 पर रख कर जाम लगा दिया और जमकर हंगामा काटा। ग्रामीणों ने रोडवेज की बस को निशाना बनाकर उसमें जमकर तोड़फोड़ पथराव की। सूचना के बाद मौके पर पुलिस और प्रशासन के अधिकारी पहुंचे लेकिन जाम खोलने को तैयार नहीं हुए। उनका कहना था कि आरोपी पुलिसकर्मियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करके उनके खिलाफ कार्रवाई की जाए साथ ही परिवार को मुआवजा दिया जाए। जाम 4 बजे लगा था और रात 10 बजे एनएच 24 को चालू किया जा सका। फिलहाल 3 सिपाहियों को सस्पेंड करके मामले की जांच शुरू कर दी  गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *