बीएचयू में नर्सिग डिग्री की मान्यता को लेकर धरने पर बैठे छात्र छात्राओ से चीफ प्रॉक्टर ने की मार पीट


 Vanars University में  नर्सिग डिग्री की मान्यता को लेकर धरने पर बैठे छात्र छात्राओ से चीफ प्रॉक्टर ने की मार पीट से वनारस हिन्दू विश्वविद्याय एक बार फिर सुर्ख़ियो के आ गया ।यहाँ से नर्सिग की डिग्री ले चुके सैकड़ो छात्र छात्राओ के भविष्य के साथ खिलबाड़ किया जा रहा है।पिछले 3 सालो से नर्सिग डिग्री ले चुके छात्रो को मान्यता नहीं मिल रही है।इसके  चलते डिग्री धारक छात्र छात्राये कैम्पस के बहार धरने पर बैठ गए।विश्वविद्यालय के चीफ प्रॉक्टर और सुरक्षा कर्मियो ने धरना दे रहे छात्रो को हटाने के लिये धक्का मुक्की और मार पीट की।फिलाल छात्रो के जबरदस्त रोष है।
वनारस विश्वविद्यालय में  पिछले तीन सालो से सैकड़ो छात्र और छात्राओ ने पढ़ाई कर डिग्री हासिल कर ली ।लेकिन उनको मान्यता न मिलने के कारण छात्रो का भविष्य खतरे में है।कालेज में पढ़ाई इंडियन नर्सिग काउंसलिंग की तरफ से कराई जा रही थी ।लेकिन अब  नर्सिग की पढ़ाई का जिम्मा प्रदेश सरकार के पास ।
नर्सिग र्डिग्री को अभी तक  मान्यता नहीं दी । इसके बाबजूद  कालेज प्रशासन मान्यता लेने  की कोशश नहीं कर रहा है।मान्यता के नाम पर  पिछले तीन सालो से विश्वविद्यालय सिर्फ झूठा आश्वासन ही देता चला अ रहा है।आज छात्र और छात्राएं कैम्पस में डिग्री की मान्यता को लेकर धरने पर बैठ गये।और कालेज प्रशासन के खिलाफ नारे बजी करने लगे। धरने पर बैठे छात्रो को चीफ प्रॉक्टर  रायना सिंह और सुरक्षा ने  हटाने की कोशिश की जब छात्रओ ने धारण हटाने को मना किया तो उनके साथ धक्का मुक्की और मार पीट की गई।ऐसे में छात्रो का भविष्य अन्धकार में पड़ा है।छात्रो को न तो कही नौकरी मिल रही है और नहीं आगे की पढ़ाई के लिए कही एड्मिसन हो रहा है। स्टेट फैकल्टी में राजिट्रेशन न होने के कारण छात्रो का भविष्य अधर में लटका है।
और पढ़ें:प्रदर्शनी में छेड़छाड़ का विरोध करने पर पुलिस के सामने छात्रो ने की पिटाई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *