भाजपा के कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश राजभर ने प्रधानमंत्री पर बोला हमला

 सीतापुर के  नैमिषारण्य PWD गेस्ट हाउस में पहुंचे भाजपा के कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश राजभर ने पीएम मोदी पर हमला बोला हर व्यक्ति कहता है की पूरा देश हमारे साथ है जब पूरा समाज साथ है

भाजपा के कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश राजभर ने प्रधानमंत्री पर बोला हमला

 सीतापुर के  नैमिषारण्य पीडब्ल्यूडी गेस्ट हाउस में पहुंचे कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश राजभर ने पीएम मोदी पर हमला बोला- कहने के लिए तो हर व्यक्ति कहता है की पूरा देश हमारे साथ है जब पूरा समाज साथ है तो अभी उपचुनाव हुआ गोरखपुर फूलपुर और कैराना में तो प्रधानमंत्री जी भी इनडायरेक्ट प्रचार करने गए थे लेकिन चारो सीट हार गए। मध्य प्रदेश राजस्थान, छत्तीसगढ़ वहां भी सब साथ में ही रहे। वहां भी हम हार गए।

 

कहने के लिए कोई भी नेता यह बयान नहीं दे सकता कि लोग हमारे साथ नहीं है। आज की रैली ने यह साबित कर दिया है कि लोग कहां हैं। और कहां नहीं है 8 लाख का दावा करने वाले नेता जो रैली कराने वाले थे 25 हजार की भीड़ भी नहीं जुटा पाए वह खुद अपने आप में समझ ले कि कहां है लोग किसके साथ हैं। सहयोगी दलों के 2019 में साथ रहने के सवाल पर ओमप्रकाश राजभर बोले देखिए अब तो उपेंद्र कुशवाहा चले गए बिहार, आपके रामविलास पासवान जाते-जाते बच गए।

 
भाजपा के कैबिनेट मंत्री ने पीएम और सीएम को दी चेतावनी

आपके महाराष्ट्र में शिवसेना अलग हो ही गई है। इस तरह का रवैया है भारतीय जनता पार्टी का यूज एंड थ्रो जब वोट लेना होता है तो सहयोगी दलों को एकदम साथ लेकर चलते हैं लगता है बड़ा शिष्टाचार है सामंजस है। चुनाव बीत जाता है तब सहयोगी दलों की याद नहीं आती फिर जब जरूरत आती है तो फिर खोजने लगते हैं। तो उस से तंग आकर चाहे अनुप्रिया पटेल हो चाहे ओमप्रकाश राजभर हो,चाहे उपेंद्र कुशवाहा हो, जो भी लोग उनके साथ हैं वह अपने को ठगा हुआ महसूस कर रहे हैं।

 

इसको लेकर के 2017 के चुनाव में भाजपा ने यह कहा था कि सामाजिक न्याय समिति की रिपोर्ट लागू करेंगे पिछड़ी जाति में 27 परसेंट आरक्षण की 3 कैटेगरी बनाने की बात पिछड़ा, अति पिछड़ा और सर्वाधिक पिछड़ा की बात कहा था। और 100 दिन और चुनाव के रह गए हैं, लेकिन अभी तक तो नहीं की है वोट तो ले लिए सरकार तो बन गई। इसी बात को लेकर के भारतीय समाज पार्टी अपना अभियान 24 दिसंबर से अपना अभियान उत्तर प्रदेश के 75 जिलों में अपना क्रमिक अनशन चला रही है। कि जब तक लागू नहीं करेंगे तब तक हम लोग अनशन करते रहेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *