पुरानी पेंशन बहाली पर सरकार के रुख के खिलाफ, लाखों कर्मचारी आंदोलन फिर से शुरू करेंगे।

लखनऊ: पुरानी पेंशन बहाली को लेकर प्रदेश के श‍िक्षक इंजीनियर्स और लाखों कर्मचारी लखनऊ में फिर शुरू करेगे प्रदर्शन ।कई आंदोलन हो चुके पर सरकार ने पुरानी पेंशन बहाली पर अभी तक अपना रुख साफ नहीं किया है।

पुरानी पेंशन बहाली पर सरकार के रुख के खिलाफ, लाखों कर्मचारी आंदोलन फिर से शुरू करेंगे।
लखनऊ: पुरानी पेंशन बहाली को लेकर प्रदेश के श‍िक्षक इंजीनियर्स और लाखों कर्मचारी लखनऊ में फिर शुरू करेगे प्रदर्शन ।कई आंदोलन हो चुके पर सरकार ने पुरानी पेंशन बहाली पर अभी तक अपना रुख साफ नहीं किया है। जिससे कर्मचारियो में दिन प्रतिदिन रोष बढ़ता जा रहा है।  पुरानी पेंशन बहाली को लेकर डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा और  सीएम योगी भी आला धिकारिओ के साथ आपात बैठक कर चुके है।पर अभी तक पुरानी पेंशन बहाली का सरकार ने कोई निर्देश जारी नहीं किया ।कर्मचारियो ने अब सरकार से अपनी मांग मगबने के लिए आंदोलन कर आर पार की लड़ाई करने का मन बना लिया है।
पुरानी पेंशन का आंदोलन अक्टूबर में स्थगित करने वाले प्रदेश के डेढ़ सौ से अधिक कर्मचारी संगठनों ने अब एक बार फिर झंडा उठाकर सरकार के खिलाफ बिगुल फूंकने की तैयारी कर ली है। शासन द्वारा गठित उच्चाधिकार समिति के रुख से निराश यह संगठन गुरुवार को कर्मचारी शिक्षक अधिकारी पुरानी पेंशन बहाली मंच के बैनर तले राजधानी में एकत्र होंगे। शासन द्वारा दो महीने के लिए गठित समिति का कार्यकाल 24 दिसंबर को खत्म हो रहा है। पुरानी पेंशन बहाली मंच ने 24 अक्टूबर को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ बैठक के बाद 25 अक्टूबर से प्रस्तावित हड़ताल को दो महीने के लिए यानि 24 दिसंबर तक के लिए स्थगित किया था।
बैठक में मुख्य सचिव अनूप चंद्र पांडेय सहित अन्य अधिकारियों ने दो महीने में समिति की संस्तुति तैयार होने की उम्मीद जताई थी लेकिनए समिति के कार्यकाल का अधिकांश समय बीतने के बाद अब तक हुई बैठकों में कोई समाधान तैयार नहीं हो पाया है।  अब तक की बैठकों में न तो केंद्र के प्रतिनिधि शामिल हुए और न ही समिति में सदस्य बनाए गए विभिन्न विभागों के प्रमुख सचिव व अपर मुख्य सचिव ही बैठकों में आए। पुरानी पेंशन बहाली मंच के संयोजक हरिकिशोर तिवारी बताते हैैं कि समिति से अब कोई समाधान निकलने की उम्मीद नहीं है। इसीलिए मंच में शामिल सभी संगठनों की बैठक गुरुवार को बुलाई गई है। ताकि अब तक हुई बैठकों का विवरण सबके सामने रखकर आगे की रणनीति तय की जा सके और आंदोलन का निर्णय लिया जा सके। पुरानी पेंशन बहाली मंच के पदाधिकारियों की मांग पर मुख्य सचिव ने अपर मुख्य सचिव सूचना व पर्यटन अवनीश अवस्थी को भी शासन द्वारा गठित समिति में शामिल कर लिया है। मंच के संयोजक हरिकिशोर तिवारी ने बताया कि मुख्य सचिव ने इसके निर्देश जारी कर दिए

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *