बाराबंकी में आतिशबाजी बनाते हुआ बिस्फोट में 4 की मौत कई घायल

बाराबंकी के रामसनेही घाट इलाके के धारुपुर गाँव मे एक के बाद विस्फोटों से हड़कम्प मच गया।मकान में आतिशबाजी बनाते समय हुए भीषण विस्फोटों में 3 मकान ध्वस्त हो गए और 4 लोगो की दर्दनाक मौत हो गई

बाराबंकी में आतिशबाजी बनाते हुआ बिस्फोट में 4 की मौत कई घायल
बाराबंकी के रामसनेही घाट इलाके के धारुपुर गाँव मे एक के बाद विस्फोटों से हड़कम्प मच गया।मकान में आतिशबाजी बनाते समय हुए भीषण विस्फोटों में 3 मकान ध्वस्त हो गए और 4 लोगो की दर्दनाक मौत हो गई, जिसमे कई लोग बुरी तरह  झुलस गए, वही मकानों में मलबे में कई लोगो के दबे होने की आशंका जतायी जा रही है । विस्फोट इतना शक्तिशाली था कि मकानों का मलबा और  मानव अंग गांव के बहार जाकर गिरे। पुलिस और प्रशासन की लापरवाही के चलते रिहायसी इलाके में चल रहा था आतिशबाजी बनाने का कम इससे पहले भी कई बिस्फोट हो चुके है ।फिलाल हादसे की सूचना पर पुलिस और प्रशासन मौके पर पहुँच कर रहत और बचाव में जुटी है।
बाराबंकी के धारूपुर गांव मेंआतिशबाजी बनाने के समय मंगलवार की शाम को एक घर में विस्फोट हो गया।बिस्फोट में चार लोगो की मौत हो गई और छह लोग घम्भीर रूप से घायल हो गए। विस्फोट  का धमाका इतना जोरदार हुआ कि मृतकों के शव के टुकड़े 200 मीटर दूर गांव के बहार जाकर गिरे।  धमाकों से गांव में दहशहत फैल गई।  सूचना मिलते ही प्रशासन और कई थानो की पुलिस मौके पर पहुँच कर राहत और बचाव के काम में जुट गई। धारूपुर गांव निवासी हसीब के पास आतिशबाजी बनाने का लाइसेंस है। बताया जा रहा है कि उसका कारखाना गांव के बाहर है।और आतिशबाजी घर पर बनबाता था। मंगलवार को उसका बेटा आबादी के बीच स्थित अपने घर में आतिशबाजी तैयार कर रहा था। इसी दौरान विस्फोट के चलते बड़ा हादसा हुआ। धमाके में  हसीब के साथ आतिशबाजी तैयार कर रहे शब्बीर और जाहिद व कई अन्य भी विस्फोट का शिकार हुए। तेज विस्फोट के चलते करीब 200 मीटर से ज्यादा दूर मृतकों के शवों के अंग बिखरे हुए मिले हैं।गांव के बाहर मिला बालक का जला शव विस्फोट में एक बालक का जला शव गांव के बाहर और एक हाथ के साथ अन्‍य युवक का शव बरामद हुआ है। मृतकों और घायलों की संख्या इससे अधिक भी हो सकती है।गांव बालो ने  अवैध कारोबार को लेकर कई बार आवाज उठाई पर उनकी एक न सुनी गई। जिसका परिणाम आज सबके सामने है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *